Home / bitcoin news / Dekado के बाद भारत का सबसे बड़ा क्रिप्टो घोटाला ‘Bitconnect’ कंपनी हुई फरार

Dekado के बाद भारत का सबसे बड़ा क्रिप्टो घोटाला ‘Bitconnect’ कंपनी हुई फरार

जैसा की हमने अपनी पिछली पोस्ट मैं यह बताया है की Bitconnect  एक पोंज़ी स्कीम है जो की लोगो को लूटने के लिए इसकी शुरुआत की गई आज आप देख सकते है की बिटकनेक्ट आज अपनी कंपनी को बंद कर चुके है वो भी रातो रात. इस कंपनी मैं लगे लोगो के पैसे फस चुके है. और इसी तरह और भी काफी स्कीम है जो की लोगो को लूटने का कार्य कर रही है. हम एक क्रिप्टो न्यूज़ बेस्ड मीडिया कंपनी है जो की इस तरह के लोगो और उनके द्वारा चलाई गई स्कीमो के बारें मैं आघाह करते आये है और करते रहेंगे ताकि आप लोगो इस तरह की स्कीमो से बचे.

Bitconnect  से जुडी खबर अब  संक्षेप में

Bitconnect  ने औपचारिक रूप से टेक्सास और उत्तरी कैरोलिना नियामकों से चेतावनी देने के बाद अपने ऋण मंच और क्रिप्टोक्यूरेंसी एक्सचेंज को बंद कर दिया । Bitconnect Coin (बीसीसी) आज 87% और अपने दिसंबर 29 उच्च $ 437 से 93% कम है। बीसीसी केवल $ 30 के लिए कारोबार कर रहा है

Ponzi-like

कई लोगों मुताबिक, Ethereum  के संस्थापक Vitalik Buterin  सहित Bitconnect   एक पोंजी योजना को बुलाया है। इस तरह के आरोप बहु स्तरीय रेफरल प्रणाली पर आधारित होते थे और प्रत्येक ऋण पर 40% तक का ब्याज अर्जित किया था, साथ ही प्रति दिन 0.25% तक का दैनिक बोनस अर्जित किया गया था। खतरे से मुक्त उच्च रिटर्न का वादा अक्सर एक घोटाले के विशिष्ट होता है – अगर यह सच होने के लिए बहुत अच्छा लगता है, तो यह संभवतः है

BitConnect Coin की वेबसाइट मुद्रा का वर्णन करता है:

“जब आप बिटकैंक Coin प्राप्त करते हैं तो यह प्रति वर्ष 120% रिटर्न के साथ एक ब्याज वाली संपत्ति बन जाती है। यह आसान है। ”

दुर्भाग्य से निवेशकों के लिए, कि “ब्याज-असर संपत्ति” अब लगभग बेकार है

 

latest न्यूज़ देखने के लिए हमारा सोशल अकाउंट को लाइक एंड फॉलो करे.

https://twitter.com/cryptonewsindi1 

https://www.facebook.com/DailyCryptonewsindia/

 

 

About admin

Check Also

bitcoin tax

फोर्ब्स ने जारी की पहली क्रिप्टो रिच लिस्ट, 51 हजार करोड़ रुपए की करंसी के साथ XRP Owner क्रिस लारसेन टॉप पर

न्यूयार्क.फोर्ब्स ने पहली बार क्रिप्टो करंसी होल्डर्स की रिच लिस्ट जारी की। इसमें रिप्पल कंपनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *